आज के युवा पीढ़ी को सीखना चाहिए : श्रध्येय बाजपेयी जी के विचार

0
Atal-Bihari-Vajpayee-Ke-Vichar-

अटल बिहारी वाजपेयी के अनमोल विचार!

1. छोटे मन से कोई बड़ा नही होता, टूटे हुए मन से कोई खड़ा नही होता

Anmol Vichar:-2
हम दोस्तों को बदल सकते है लेकिन पड़ोसियों को नही बदल सकते है

Anmol Vichar:-3
हमारे परमाणु हथियार विशुद्ध रूप से विरोधियो के परमाणु हमले को हतोत्साहित करने के लिए काफी है

Anmol Vichar:-4
जलना होगा, गलना होगा और हमे कदम मिलकर एक साथ चलना होगा

Anmol Vichar:-5
हमारे पड़ोसी कहते है की एक हाथ से ताली नही बजती, हमने कहा चुटकी तो बज ही सकती है

Anmol Vichar:-6
शीत युद्द के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ के खिलाफ एक गलत धारणा बन गयी है की संयुक्त राष्ट्र अब कोई समस्या हल नही कर सकता लेकिन हम वसुधैव कुटुम्बकम में विश्वास करते है और संयुक्त राष्ट्र पूरे विश्व को एक सूत्र में लेकर चल सकता है

Anmol Vichar:-7
मै मरने से नही डरता हु, बल्कि बदनामी होने से डरता हु

Anmol Vichar:-8
हमारा देश एक मन्दिर है और हम इसके पुजारी, हमे राष्ट्रदेव की पूजा में खुद को समर्पित कर देना चाहिए

Anmol Vichar:-9
मौत की उम्र क्या दो पल भी नही, जिन्दगी की सिलसिला, आज कल का नही
मै जी भर जिया, मै मन से मरु, लौट के आउगा, फिर कुच से क्यों डरु |

Anmol Vichar:-10
जीवन के इस फूल को पूर्ण रूप से पूरी ताकत के साथ खिलाए
Anmol Vichar:-11
भारत के प्रति निष्ठा रखने वाले सभी भारतीय एक है भले ही उनका मजहब, जाति, प्रदेश अलग ही क्यों न हो
Anmol Vichar:-12
मै चाहता हु भारत फिर से एक महान राष्ट्र बने, शक्तिशाली बने, पूरे विश्व के राष्ट्रों में पहला स्थान पाए

Anmol Vichar:-13
मै हिन्दू परम्परा में गर्व महसूस करता हु लेकिन भारतीय परम्परा में अभूतपूर् गर्व होता है

Anmol Vichar:-14
इन्सान बने, केवल नाम से ही नही, रूप से नही, शक्ल से नही बल्कि बुद्धि से, हृदय से, ज्ञान से

Anmol Vichar:-15
हर इन्सान को चाहिए वह परिस्थितियों से लड़े, एक स्वप्न टूटे तो दूसरा गढ़े |

टूट सकते है मगर हम झुक नही सकते

Anmol Vichar:-17
जोड़ तोड़ से मिली सत्ता को हमे मिले तो उसे चिमटे से भी छूना पसंद नही करेगे
Anmol Vichar:-18
भारत के जिन ऋषियों मुनियों ने एकात्म जीवन के ताने बाने को बुना था वह आज के समय अपेक्षा और उपहास का विषय बनाया जा रहा है
Anmol Vichar:-19
इतिहास ने, भूगोल ने, संस्कृति ने परम्परा ने, धर्म ने, नदियों ने हमे आपस में बाधा है

Anmol Vichar:-20
सेवा कार्यो के लिए सरकार नीति बना सकती है लेकिन इसे अमल रूप में लाने के लिए समाज सेवी संस्थाओ को ही आगे आना होगा

Anmol Vichar:-21
हम अहिंसा में आस्था रखते है और हम चाहते है की विश्व के समस्याओ का समाधान शांति और समझौते से ही हो

Anmol Vichar:-22
भारत इतना छोटा देश नही है की कोई भी इसे जेब में रख ले और उसका पिच्छलग्गू हो जाये पहले हम अपने आजादी एक लिए लड़े और अब दुनिया के आजादी के लिए लड़े

Anmol Vichar:-23
एटम बम का जवाब क्या है ? एटम बम का जवाब एटम बम ही है इसका कोई और जवाब नही हो सकता है

Anmol Vichar:-24
कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक फैला हुआ यह भारत एक राष्ट्र है, अनेक राष्ट्रीयताओ का समूह नही

Anmol Vichar:-25
मजहब बदल लेने से राष्ट्रीयता नही बदलती और ना ही संस्कृति में परिवर्तन होता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here