पूर्व प्रमुख व स्वतंत्रता सेनानी के निधन से छाया शोक का लहर

0

संवाददाता – दिपक कुमार

मुंगेर- बताते चलें कि जैसे ही स्वतंत्रता सेनानी व पूर्व प्रमुख, एवं क्षेत्र के चर्चित समाजसेवी एवं शिक्षाविद राजेंद्र प्रसाद भगत का 93 साल की उम्र मे आज निधन हो गया। विदित हो कि श्री भगत अपने क्षेत्र मुंगेर के गाँधीवादी नेता थे। वो अपने कार्यकाल में पांच बार प्रखंड प्रमुख भी रह चुके है । अपनें क्षेत्र में इन्होंने प्राइमरी स्कूल से लेकर कॉलेज की स्थापना खुद करवाई थी। आजादी के बाद भी राजबंदेली से कठिन परिश्रम करके खुद दौड़ भाग कर के कई जगहों को स्कूल में तब्दील कराया था।
93 वर्ष की उम्र में भी वो अपने क्षेत्र के विकास के लिए तत्पर रहते थे। उनके निधन पर पूरा क्षेत्र शोकाकुल है। सांसद श्री चिराग पासवान हो या विधायक मेवालाल चौधरी सभी ने श्री भगत के निधन पर गहरा दुख जताते हुए । क्षेत्र के लिए अपूरणीय क्षति बताई है। अपने पीछे भरा – पूरा परिवार छोड़ गये। श्री भगत के तीन पुत्र और तीन पुत्रियां है। वहीं श्री भगत के पुत्र ने बताया कि श्राद्ध कार्यक्रम उनके निजी आवास संग्रामपुर मे आयोजित होगा।उनके पुत्र श्री मनोज कुमार भगत ने कहा कि उनकी कमी खलेगी परंतु उनके चले मार्ग और आदर्श को अपनाकर हम लोग भी अपना जीवन धन्य करेंगे। देश के लिए सोचना ही श्री भगत ने हमें सिखाऐं और अपने क्षेत्र का चहुंमुखी विकास ही इनका आदर्श मार्ग था जिसपर हमेशा चलतें रहना है। श्री निधन के निधन की बात सुनने से दर्जनों गांवों के लोग उनके आवास पर जुट शोकाकुल परिवार के सहभागी बनें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here