गुजरात में बिहारियों पर जारी हमले के खिलाफ प्रतिरोध मार्च निकालकर विरोध जताया

0

कस्तुरबा के 34 छात्राओं के हमलावरों को जेल में बंद करो-आइसा

समस्तीपुर – गुजरात में बिहारियों पर लगातार जारी हमला एवं त्रिवेणीगंज के कस्तुरबा विद्यालय में छेड़खानी का विरोध कर रहे 34 छात्राओं पर किये गये हमले के खिलाफ आज आइसा एवं इनौस के झंडे-बैनर तले शहर के स्टेडियम गोलंबर से प्रतिरोध मार्च निकाला गया जो मांगों से संबंधित नारे लगाते हुए मुख्य मार्गों का भ्रमण करते हुए पुनः स्टेडियम गोलंबर पहुँचकर मार्च सभा में तब्दील हो गया। अध्यक्षता इनौस जिला अध्यक्ष सुरेंद्र प्रसाद सिंह तथा संचालन आइसा जिलाध्यक्ष सुनील कुमार ने किया।
सभा को आइसा जिला सचिव चंदन कुमार बंटी, प्रिति कुमारी, कुंदन यादव, राजू झा, अमरजीत कुमार, दीपक कुमार, मो० फरमान आदि ने आहूत सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पहले महाराष्ट्र, आसाम आदि जगहों से बिहारियों को खदेड़ा जा रहा था। अब गुजरात में बिहारिओं को चिंहित कर हमला कर खदेरा जा रहा है जबकी बिहारी मजदूर दूसरे प्रदेशों में जाकर वहाँ के विकास कार्यों में हाथ बटाते रहे हैं। इन हमलों में वोट के समय बिहारी स्मिता का राग अलापने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं उपमुख्यमंत्री छोटे मोदी चुप हैं।यह बिहार के साथ अन्याय है। आइसा-इनौस इस अन्याय के खिलाफ जंग जारी रखेगा। नेताओं ने त्रिवेणीगंज में छेड़खानी का विरोध कर रहे कस्तुरबा विद्यालय की छात्राओं के हमलावरों कै गिरफ्तार कर जेल में डालने की मांग की अन्यथा आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here